अब मोदी सरकार का अगला निशाना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर, बन चुका है प्लान

370 हटाने का जश्न मनाने के साथ अब भारत में सत्ताधारी पार्टी अब कुछ और भी बड़ा करने की फिराक में हैं। इसके आगमन का बिगुल बजाते हुए केंद्रीय मंत्री जीतेन्द्र सिंह ने बयान दिया है कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म करने के बाद अब बारी है पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) को भारत में मिलाने की। जितेंद्र सिंह ने कहा,’इस ऐतिहासिक कदम के बाद, आइए हम पीओके को पाकिस्तान के अवैध कब्जे से मुक्त कराने और इसे संसद में सर्वसम्मति से पारित प्रस्ताव के अनुरूप देश का अभिन्न हिस्सा बनाने की सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ते हैं।’

जम्मू के पार्टी मुख्यालय में मौजूदा सामाजिक राजनीतिक स्थिति पर एक बैठक को संबोधित करते हुए जितेंदर सिंह ने खुद को खुशकिस्मत बताया। उन्होंने कहा,’हम खुशकिस्मत हैं कि यह हमारे जीवनकाल में हुआ। यह हमारी तीन पीढ़ियों के बलिदान के कारण संभव हुआ।’ इसके साथ ही उन्होंने मुज़फ़्फ़राबाद में बिना किसी आज्ञा के जा पाने की उम्मीद जताई। उन्होंने कहा,’हम दुआ करें कि हम पीओके को देश में शामिल होते और लोगों को बेरोक-टोक मुजफ्फराबाद जाते देखें। आपको बता दें कि मुज़फ़्फ़राबाद पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर की राजधानी है।

राजनेताओं पर कसा तंज

इसके साथ ही कश्मीर में नेताओ की गिरफ़्तारी और घाटी में संचार पर लगी पाबंदियों को भी तवज्जों नहीं दिया। उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ़्ती के दिनचर्या पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा,’ये लोग जिम में पसीना बहा रहे हैं, पुस्तकें पढ़ रहे हैं और यहां तक कि हॉलीवुड मूवी आर्डर कर रहे तथा देख रहे हैं।’ मुख्यधारा के राजनेताओ की गिरफ़्तारी की आलोचना को लेकर उन्होंने साफ़ शब्दों में न कहते हुए कांग्रेस की तरफ इशारा कर दिया। उन्होंने कहा कि इसे अनावश्यक ही एक बड़ा मुद्दा बना दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *