उत्तराखंड में रहने वालों सावधान! बाढ़ और ज़मीन खिसकने से इतनी मौत

उत्तराखंड में बाढ़ और भूस्खलन से हालात बदतर होते जा रहे हैं। उत्तराखंड में कई जगह बादल फटने के बाद कोहराम मचा हुआ है तो कई जगह भूस्खलन से पहाड़ टूट कर सड़कों पर गिर रहे हैं। उत्तरकाशी के मोरी क्षेत्र में रविवार को बादल फट गया था। इस हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई है। इस समय भी वहां रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। आपदा प्रबंधन के सचिव एस ए मुरुगेसन के अनुसार उत्तरकाशी के मोरी तहसील में बादल फटने से 17 लोगों की मौत हो गई है। राहत और बचाव कार्य चल रहा है। इससे पहले सोमवार को वित्त सचिव अमित नेगी, महानिरीक्षक संजय गुंज्याल और उत्तरकाशी के जिला मजिस्ट्रेट आशीष चौहान ने अरकोट में हालात का जायजा लिया था।

उत्तरकाशी के मोरी क्षेत्र में रविवार को भारी बारिश हुई। इसके बाद बादल फट गया था। इस हादसे में ग्रामीणों के मलबे में दबे होने की सूचना मिली। इस पर एसडीआरएफ की टीम बड़कोट से रवाना हुई। सुदूरवर्ती क्षेत्र मोरी के गांव माकुड़ी, टिकोची और आराकोट भारी बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं।
एसडीआरएफ की  टीम बड़कोट से प्रभावित इलाके आराकोट में पहुंच चुकी है। रेस्क्यू टीम के मोरी तक पहुंचने की सूचना है। रास्ता ज्यादा टूटे होने से टीम को प्रभावित गांव में पहुंचने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। मोरी में रेस्क्यू के लिए दो हेलिकॉप्टर भी लगाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *