आंध्र में नायडू और उनके बेटे इसलिए हुए हाउस अरेस्ट, अब करेंगे भूख हड़ताल

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और टीडीपी के प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू की मुश्किल लगातार बढ़ती ही जा रही हैं। अब चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे नारा लोकेश को नजरबंद कर दिया गया है। दरअसल, आंध्र प्रदेश में टीडीपी नेता की हत्या के खिलाफ आज चंद्रबाबू नायडू प्रदर्शन करने वाले थे। पुलिस ने नायडू और उनके बेटे को घर से निकलने से रोक दिया और दोनों को हाउस अरेस्ट कर दिया। इसके खिलाफ चंद्रबाबू नायडू ने अपने घर पर ही आज सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक भूख हड़ताल का ऐलान किया। इस ऐलान के बाद समर्थक नायडू के घर जा रहे थे, जिन्हें पुलिस ने रोक दिया और कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है।

इससे पहले टीडीपी के महासचिव और एमएलसी नारा लोकेश जब अथमाकुर में हो रहे प्रदर्शन में शामिल हो जा रहे थे तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। पुलिस ने इलाके में धारा 144 लगा दी है। पार्टी के कई वरिष्ठ नेता जो अथमाकुर जा रहे थे, उन्हें भी हिरासत में लिया गया। पार्टी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू के अमरावती स्थित आवास की ओर जा रहे नेताओं को भी पुलिस ने रोक लिया।

पूर्व मंत्री पी पुल्ला राव, नक्का आनंद बाबू, अल्पपति राजा, सिद्ध राघव राव, देवीनेनी उमामहेश्वर राव, विधायक एम गिरि, जी राममोहन, पूर्व विधायक बोंडा उमा, एमएलसी वाईवीबी राजेंद्र प्रसाद, और तेलुगु युवता के अध्यक्ष देवीनेनी अविनाश को नजरबंद किया गया है। नायडू ने आज सुबह पार्टी नेताओं के साथ बैठक की और पुलिस कार्रवाई की निंदा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *