कानपुर में हुई हिंसा पर अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश सरकार पर साधा निशाना, बीजेपी कार्यकर्ताओ को कहा “गुंडाराज”

कानपुर गजनेर थाना क्षेत्र के मंगटा गांव में भीम शोभा यात्रा निकाले जाने पर दो जाति विशेष के लोग आमने सामने आ गए। दोनों पक्षों में पथराव और मारपीट के बाद तनाव का माहौल हो गया है। वहीं करीब छह से अधिक लोग जख्मी हुए हैं। सूचना पर फोर्स लेकर पहुंचे एसपी ने लोगों को समझाकर हालात पर नियंत्रण किया। पुलिस ने घायलों को अस्पताल भिजवाया और गांव में मार्च करके लोगों को सुरक्षा का एहसास कराया।

 

मंगटा गांव स्थित गौतम बुद्ध पार्क में 8 फरवरी को कथा पूजन कराया गया था। गुरुवार को भीम शोभा यात्रा निकाली जानी थी और तय समय पर सुबह लोग शोभा यात्रा निकाल रहे थे। वहीँ अनुसूचित जाति व क्षत्रिय बिरादरी के लोगों में विवाद शुरू हो गया। दोनों ओर से पथराव व मारपीट होने से अफरातफरी मच गई और 23 लोग जख्मी हो गए। गांव में तनाव पूर्ण हालात बन गए। इस मामले पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी पर निशाना साधा है | उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि “भाजपाई कार्यकर्ताओं के गुंडाराज की एक और शर्मनाक घटना में कानपुर देहात के मांगटा गाँव में दलितों को जमकर पीटा गया | जिसमें 23 दलित ज़ख़्मी हुए हैं | प्रदेश में पुलिस को अपनी रक्षात्मक भूमिका के विपरीत कार्य करने को बाध्य किया जा रहा है | हम इस लड़ाई में हर क़दम दलितों के साथ हैं |”

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © Newsnasha | CoverNews by AF themes.