दिल्ली चुनाव में करारी हार के बाद सुभाष चोपड़ा ने दिल्ली कांग्रेस प्रमुख के पद से दिया इस्तीफा

दिल्ली विधानसभा चुनाव में एक बार फिर केजरीवाल कि आम आदमी पार्टी दिल्ली में सरकार बनाने जा रही है । आम आदमी पार्टी ने बीजेपी और कांग्रेस को पछाड़ दिया है। दिल्ली चुनाव से पहले विपक्ष आम आदमी पार्टी के कार्यों को लेकर बार-बार निशाना साध रहा था। बीजेपी ने दिल्ली में जीतने के लिए हर मुमकिन कोशिश की । बीजेपी द्वारा दिल्ली चुनाव में भी राष्ट्रवाद का मुद्दा उठाया गया था लेकिन दिल्ली वासियों ने इस सब के बावजूद भी आम आदमी पार्टी का सहयोग किया।’ वहीं अगर कांग्रेस की बात करें तो इस बार भी कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली है। इस हार के बाद कांग्रेस के दिल्ली अध्यक्ष ने अपने पद से इस्तीफा भी दे दिया है।

सुभाष चोपड़ा ने दिल्ली कांग्रेस प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया है। बता दें कि दिल्ली चुनाव से कुछ समय पहले ही दिल्ली में सुभाष चोपड़ा को अध्यक्ष बनाया गया था। वहीं अब सुभाष चोपड़ा ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। अब दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हैं। 15 साल दिल्ली पर राज करने वाली सरकार पिछले 2 चुनावों से दिल्ली में एक भी सीट नहीं जीती है। ये कांग्रेस कि बहुत बड़ी हार है। हालाकि चुनाव से पहले ही आंकलन लगाया जा रहा था कि कांग्रेस इस चुनाव में कुछ खास अच्छा नहीं कर पाएगी। ऐसा ही हुआ और इस बार भी कांग्रेस ने दिल्ली में एक भी सीट नहीं जीती।

बता दे की दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस शून्य पर रही और बीजेपी महज 8 सीटों पर ही सिमट गई। गृहमंत्री अमित शाह ने चुनाव से पहले दिल्ली में 45 पार का नारा दिया था। जो बूरी तरह फ्लॉप साबित हुआ। हालाकि पिछले साल के मुताबिक दिल्ली में बीजेपी ने ज्यादा सीटें जीती हैं। पिछले बार के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने महज 3 सीट जीती थी वहीं इस बार बीजेपी ने कुल 8 सीटें जीती हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © Newsnasha | CoverNews by AF themes.