शिवसेना ने फिर उठाई तलवार, अब समान नागरिक आचार संहिता का मुद्दा उठाया

जहाँ दिल्ली, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना के बीजेपी सदस्यों और मंत्रियों की तरफ से राज्यों में NRC की मांग की जा रही है, वहीँ शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने देश के गृहमंत्री अमित शाह से पूरे देश में समान नागरिक संहिता (Uniform Civil Code) लागू करने की अपील की है। उद्धव ठाकरे ने दशहरा (Dussehra) के मौके पर आयोजित रैली में जनता को संबोधित करते हुए ये बात कही।

उद्धव ठाकरे ने कहा कि जनता मुझसे सवाल पूछती है कि आपने बीजेपी के साथ गठबंधन क्यों किया, तो इसके जवाब में मैं कह सकता हूं कि बीजेपी (BJP) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) से अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाकर बड़ा काम किया है। ठाकरे ने कहा कि वह देश के गृहमंत्री अमित शाह से देश में समान नागरिक संहिता लागू करने की अपील करते हैं। उन्होंने कहा कि हम अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Temple) के निर्माण के लिए हमेशा आवाज उठाते रहे हैं। जब तक अयोध्या में राम मंदिर नहीं बन जाता तब तक आवाज उठाते रहेंगे। क्योंकि राम हमारी आस्था हैं। शिवसेना राजनीति के लिए राम नाम का इस्तेमाल नहीं करती।

विपक्ष पर साधा निशाना, कहा असली गठबंधन है ये

उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस (Congress), एनसीपी (NCP) और अन्य विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या आपको लगता है कि शरद पवार और मायावती देश को चलाने में सक्षम हैं? इसीलिए शिवसेना ने भाजपा के साथ केंद्र और राज्य दोनों जगहों पर गठबंधन किया है। उन्‍होंने कहा कि आज देख लीजिए देश कैसा चल रहा है। वहीँ उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘भाजपा-शिवसेना का गठबंधन वास्तविक है। यह उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा के गठजोड़ की तरह नहीं है जो सत्ता के लालच में किया गया था।’ उन्होंने कहा कि भाजपा का नहीं तो क्या हम कांग्रेस का समर्थन करें, जिसने जम्मू-कश्मीरर में अनुच्छेद 370 को रद्द करने और राजद्रोह कानून का विरोध किया है।

कभी हमलावर तो कभी साथ दिख रही शिवसेना

शिवसेना प्रमुख ने कहा, ‘सरकार को अगले एजेंडे में अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण और समान नागरिक संहिता को लाना होना चाहिए।’ गौरतलब है कि बीते दिनों शिवसेना मुंबई की आरे कॉलोनी में पेड़ों की कटाई को लेकर बीजेपी पर हमलावर थी। आदित्य ठाकरे ने सीधे तौर पर केंद्र सरकार और बीजेपी पर निशाना साधा था। हालाँकि दशहरे पर शिवसेना वापिस बीजेपी के साथ दिखाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *