मोदी ने मलेशियाई पीएम से मांग लिया ज़ाकिर नाइक, हुआ ये असर

बुधवार को रूस दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी ने मलेशिया से एक बड़ी मांग कर दी है। दौरे पर गए प्रधानमंत्री ने गुरुवार को मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद से मुलाकात के दौरान विवादास्पद इस्लामिक उपदेशक (Islamic Preacher) जाकिर नाइक (Zakir Naik) के प्रत्यर्पण की मांग कर दी। भारत के आरोपी ज़ाकिर नाइक के प्रत्यार्पण को लेकर मलेशिया सोच में पड गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने रूस के पूर्वी सुदूर क्षेत्र में पूर्वी आर्थिक मंच (ईईएफ) की पांचवीं बैठक के इतर मलेशिया के प्रधानमंत्री से बात की। उन्होंने बातचीत के दौरान मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद से एक बार फिर ज़ाकिर नाइक को भारत भेजने की मांग की। उनके इस कदम पर विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि,’पीएम मोदी ने जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण का मुद्दा उठाया है। दोनों पक्षों ने इस बात पर सहमति जताई है कि ये मुद्दा दोनों देश के लिए काफी अहम है। लिहाजा दोनों देश के अधिकारी इस मसले पर एक दूसरे के सम्पर्क में रहेंगे।’ वहीँ प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘व्लादिवोस्तोक में बैठकें जारी हैं। प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत-मलेशिया सहयोग को विविधतापूर्ण बनाने के तरीकों पर चर्चा की ताकि दोनों देशों के लोगों की भलाई हो सके।’

सार्वजनिक भाषण देने पर रोक

आपको बता दें कि ज़ाकिर नाइक भारत में कट्टरपंथ को भड़काने और मनीलॉन्ड्रिंग के मामले में वांटेड अपराधी है। भारत ने पिछले साल मलेशिया से उसे प्रत्यर्पित करने के लिए कहा था, लेकिन भारत के आग्रह को खारिज कर दिया गया था। हालांकि पिछले महीने जाकिर नाइक के सार्वजनिक भाषण देने पर मलेशिया सरकार ने रोक लगा दी थी। मलेशिया सरकार ने ऐसा उनके भेदभाव भरे बयान के बाद किया था। उन्होंने एक बयान में मलेशिया में रह रहे हिन्दुओं और मलेशियाई चीनी नागरिको को देश से बाहर निकालने की बात कही थी। इसके बाद उन्हें वहां की पुलिस द्वारा हिरासत में लेकर पूछताछ की गई थी जिसके बाद उन्होंने अपने इस बयान पर माफ़ी मांगी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *